Total Views: 157

BHU स्थित विज्ञान संस्थान के भौमिकी विभाग में कार्यरत डॉ. आलोक कुमार को क्षमता निर्माण कार्यक्रम के तहत दुर्लभ पृथ्वी तत्वों (आरईई), दुर्लभ धातुओं (आरएम) और सामरिक खनिजों के लिए भू-रसायन और अन्वेषण पर एक कार्यशाला आयोजित करने के लिए जियोकेमिकल सोसायटी, संयुक्त राज्य अमेरिका से अनुदान प्राप्त हुआ है।
इस क्षमता-निर्माण कार्यक्रम का उद्देश्य नेटवर्किंग, शैक्षिक गतिविधियों, विश्लेषणात्मक प्रशिक्षण, या भू-रसायन विज्ञान से संबंधित क्षमता निर्माण को बढ़ावा देना है, जिसमें विश्वविद्यालयों, कॉलेजों, सरकारी एजेंसियों और/या उद्योग, विश्वविद्यालय-स्तरीय ग्रीष्मकालीन स्कूलों और क्षेत्रीय पाठ्यक्रमों के बीच राष्ट्रीय और क्षेत्रीय नेटवर्क विकसित करना शामिल है।
इस कार्यशाला में ष्दुर्लभ पृथ्वी तत्वों (आरईई), दुर्लभ धातुओं (आरएम) और सामरिक खनिजों पर प्रारंभिक कैरियर शोधकर्ताओं (एमएससी और प्रथम और द्वितीय वर्ष के पीएचडी छात्रों) के छात्रों को प्रशिक्षित करने के लिए विशेषज्ञों के सत्र अयोजित किये जायेंगे।

Leave A Comment