Total Views: 62
इंदौर: अखिल भारतीय शांति एवं एकजुटता संगठन द्वारा फिलिस्तीन की जनता पर लगातार हो रहे अमानवीय अत्याचार औऱ  इस्राइल द्वारा जारी  नरसंहार के विरुद्ध संघर्षरत जनता के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने हेतु सभा, रैली  और मानव श्रंखला का आयोजन किया  गया।
सभा में विभिन्न वक्ताओं ने गाजा में हो रहे नरसंहार को मानवता के खिलाफ एक गंभीर अपराध माना और वर्तमान हालातों पर चिंता व्यक्त की। संयुक्त राष्ट्र के मंच व दुनिया के मानवाधिकार मंचों पर व अमेरिका सहित दुनिया के विभिन्न देशों में जन प्रदर्शनों के बावजूद इस्राइल द्वारा युद्ध विराम की अपील न मानने  और लगातार रहवासी बस्तियों, स्कूल, अस्पताल और प्रवासी शिविरों पर विध्वंसक कार्यवाहियां जारी रखने से विश्व शांति के लिए बड़ा ख़तरा उत्पन्न हो गया है I
सभा में मुख्य वक्ता, कैलाश लिम्बोदिया, रूद्रपाल यादव, विवेक मेहता, चुन्नीलाल वाधवानी, अजय लागू और जावेद आलम थे।
श्याम सुंदर यादव और रामस्वरूप मंत्री ने सभा की अध्यक्षता की।
संगठन के महासचिव अरविंद पोरवाल ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि गाजा पर इसराइल द्वारा किए गए हमलों से विध्वंस में अब   तक चालीस हजार लोग मारे जा चुके हैं, लगभग डेढ़ लाख इमारतें  ध्वस्त हो गई हैं,  इस्राइल द्वारा हमलों में सफेद फास्फोरस के  उपयोग से आधी कृषि भूमि बंजर हो गई है,  पानी के 95% स्त्रोत  प्रदुषित हो गए हैं और सम्पूर्ण पर्यावरण को भारी नुकसान पहुंचा है। वहाँ 90% स्कूल और सभी 12 विश्वविद्यालय बंद हो गए हैं और छह लाख बच्चे शिक्षा से वंचित हैं। सभी अस्पताल खत्म हो गए हैं और  लोग चिकित्सा सहायता से  वंचित हैं।  इन परिस्थितियों में लाखों की संख्या में लोग पलायन को मजबूर हैं।
सभा का संचालन विजय दलाल ने किया।
सभा के बाद शहीद भवन से मालवा मिल चौराहे तक रैली निकाली गई और चौराहे पर मानव श्रृंखला बनाकर जनसाधारण को समय के इस महत्वपूर्ण सवाल व फिलिस्तीनी जनता के साथ एकजुटता दिखाने के लिए जनजागरण अभियान किया गया।
रैली और मानव श्रंखला में राहुल निहारे, सुरेश मिश्रा,  छोटे लाल सहरावत,  अशोक दुबे,  भगीरथ कछवाय, प्रमोद नामदेव, भारत सिंह ठाकुर आदि शामिल हुए।
अरविंद पोरवाल
9425314405

Leave A Comment