Total Views: 52

राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार पहुंचे मठ और मंदिर, मत्था टेक पीएम मोदी की ऐतिहासिक जीत का मांगा आशीर्वाद
********
पीएम मोदी ने विकास के साथ विरासत को संजोने का किया अद्भुत काम: डॉ दयाशंकर मिश्र दयालु
********
मठ एवं मंदिरों के महंत को मोदी सरकार की जनकल्याणकारी कार्यों एवं उपलब्धियों का सौंपा पत्रक, वाराणसी लोकसभा में मतदान प्रतिशत बढ़ाने पर की चर्चा
*******
वाराणसी 5 मई:- भाजपा संगठन द्वारा तय कार्यक्रम के अनुसार राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. दयाशंकर मिश्र दयालु ने काशी के प्रमुख मंदिरों एवं मठो में पहुंचकर मत्था टेका एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ऐतिहासिक जीत का आशीर्वाद मांगा। इस दौरान उन्होंने मठ एवं मंदिरों के महंत से सम्पर्क किया, मोदी सरकार के जनकल्याणकारी कार्यों एवं उपलब्धियों का पत्रक सौंपा एवं वाराणसी लोकसभा चुनाव में मतदान का प्रतिशत बढे इस पर चर्चा की।
इस क्रम में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ दयाशंकर मिश्र दयालु ने कामाख्या देवी मंदिर, कमच्छा के महंत स्वामी देवेन्द्र पुरी, धर्मसंघ मंदिर दुर्गाकुंड के महंत शंकर देव चैतन्य, जगजीतन पाण्डेय से मिलकर उनका आशीर्वाद लिया, अंगवस्त्रम ओढ़ाकर उनका सम्मान किया व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जनकल्याणकारी कार्यों एवं उपलब्धियों का पत्रक सौंपा ।
इस अवसर पर राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ दयाशंकर मिश्र दयालु ने कहा कि 2014 के पहले की काशी और आज की काशी में जमीन आसमान का अंतर है। कहा कि दस साल पहले जो काशी आया था वो आज की बदली हुई काशी को देखकर आश्चर्यचकित हैं। कहा कि आज काशी विकास का रोल माडल बन चुकी है। काशी विश्वनाथ कारीडोर बनने के बाद पुरी दुनिया से श्रद्धालु काशी आ रहे हैं। जिसके कारण काशी आर्थिक रुप से भी समृद्ध हुई है। कोविड के कारण चरमराई अर्थव्यवस्था को पंख लग गये है। लोगों को विशेषकर युवाओं को रोजगार मिला है।
राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ दयाशंकर मिश्र दयालु ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार प्रत्येक क्षेत्र में विकास के नित नये कीर्तिमान स्थापित कर रही है। कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नेतृत्व में भारत का मान सम्मान एवं गौरव पुरी दुनिया में बढ़ा है। कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विकास के साथ साथ विरासत को संजोने का अद्भुत काम किया है। कहा कि अयोध्या में प्रभु श्री राम के जन्मस्थान पर भव्य मंदिर का निर्माण, काशी विश्वनाथ कारिडोर, केदारनाथ धाम, विंध्याचल कारिडोर, महाकाल लोक आदि का दिव्य,भव्य और नव्य निर्माण कराया।
इस अवसर पर गौरव राठी, सुनील मिश्रा, संतोष सैनी, इंद्रेश मिश्रा( बबलू), सौरभ राय, जय विश्वकर्मा आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।