Total Views: 74
हिसारः गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार की राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा विश्वविद्यालय स्तर पर ‘उद्यमशीलता के गुण विकसित करने के लिए स्टार्ट-अप’ विषय पर प्रतिस्पर्धा का आयोजन किया गया। इस प्रतिस्पर्धा में विभिन्न महाविद्यालयों और विश्वविद्यालय के प्रतिभागियों ने भाग लिया और अपने सुझाव प्रस्तुत किए।  कार्यक्रम में 11 टीमों के प्रतिभागियों ने भाग लिया।
इस प्रतियोगिता में सुनिधि के सिलाई उद्यम के सुझाव को प्रथम, आस्था के ऑनलाइन कस्टमाइज फैशन डिजाइनिंग को द्वितीय स्थान मिला।  तृतीय स्थान रोहित कुमार के इलेक्ट्रॉनिक सेंसर से युक्त मिट्टी के बर्तन को मिला।  इस प्रतियोगिता के प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान हासिल करने वाले प्रतिभागियों को हरियाणा सरकार द्वारा क्रमश: 3100, 2100 और 1100 रूपये की पुरस्कृत राशि से सम्मानित किया जाएगा।  ये विजेता हरियाणा सरकार द्वारा आयाजित की जाने वाली आगामी राज्य स्तरीय प्रतिस्पर्धा में भाग लेंगे तथा इन्हीं आइडियाज को आगे लेकर जाएंगे।
कार्यक्रम में राजकीय महाविद्यालय, हांसी के प्रधानाचार्य डा. पवित्र मोहन व राजकीय महाविद्यालय, मंगाली की प्रधानाचार्या श्रीमती सरोज बिश्नोई निर्णायक मंडल के सदस्यों के रूप में उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता समन्वयक डा. अंजू गुप्ता ने की।  कार्यकारी अधिकारी डा. ललित शर्मा ने स्वागत संबोधन प्रस्तुत किया।  इस कार्यक्रम के अंत में कार्यकारी अधिकारी डॉ नरेंद्र कुमार ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया।  मंच संचालन शुभिका ने किया।
कार्यक्रम में सभी कार्यकारी अधिकारी, डॉ कल्पना शर्मा, डॉ सुनीता रानी, डॉ विकास जांगड़ा, डॉ विक्रमजीत सिंह, डॉ विनीता, डॉ नरेंद्र कुमार, डॉ ललित शर्मा सहित दलबीर आदि उपस्थित रहे।

Leave A Comment