Total Views: 206

वाराणसीः BHU से संबद्ध आर्य महिला पीजी कॉलेज में राष्ट्रीय सेवा योजना के सप्तदिवसीय विशेष शिविर में शुक्रवार को अंतिम दिन इकाई ई एवं इकाई बी द्वारा  रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया।

महाविद्यालय की कार्यकारी प्राचार्य प्रोफेसर बिंदु लाहिड़ी ने स्वयंसेविकाओ के प्रदर्शन की सराहना करते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई ई की कार्यक्रम अधिकारी डॉ. अन्नपूर्णा दीक्षित ने अपने वक्तव्य में कहा कि रक्तदान महादान है। हमारा एक यूनिट रक्त किसी को जीवन दे सकता है साथ ही इससे रक्तदाता को हृदय रोग की आशंका भी कम हो जाती है।

डॉ. विनीता ने कहा कि एक स्वस्थ व्यक्ति वर्ष में 3-4 बार तक रक्तदान कर सकता है। आज के कार्यक्रम को सफल बनाने में आईएमएस बीएचयू ब्लड बैंक के डॉ. आशुतोष कुमार सिंह एवं उनकी टीम ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया। रक्तदान शिविर का संयोजन डॉ. अन्नपूर्णा दीक्षित की इकाई ई एवं डॉ. विनीता की इकाई बी ने किया। लगभग 90 छात्राओं और कॉलेज स्टाफ ने स्क्रीनिंग कराई और 25 लोगों ने सफलतापूर्वक रक्तदान किया।
—————————————————————————

पेड़ लगाओ, पेड़ बचाओ
पृथ्वी को सुन्दर बनाओ
राष्ट्रीय सेवा योजना, यूनिट-सी की स्वयंसेविकाओं ने कार्यक्रम अधिकारी डाॅ.पुष्पा त्रिपाठी के निर्देशन में रैली निकाली। कार्यक्रम का आरम्भ राष्ट्रीय सेवा योजना के लक्ष्य गीत के साथ हुआ। यह रैली रविदास पार्क से होते हुए शिवाला स्थित ‘रत्नाकर पार्क’ तक पहुँची। वहाँ पहुँच कर छात्राओं ने साफ-सफाई की। झाडू लगाते समय धूल न उड़े, इसके लिए जल का छिड़काव किया।

वृक्षों की क्यारियाँ बनाईं, उसमें जल डाला। वहाँ बहुत से लोग नित्यकर्म स्नानादि कर रहे थे। कपड़े सुखाना, पापड़ बनाना आदि कहाँ के नित्य कर्म हैं। स्वयंसेविकाओं ने पार्क को साफ करके उन तक यह संदेश पहुँचाया कि इन पार्को की सुरक्षा, साफ सफाई, वृक्षों में जलादि डालने का कार्य हमें नित्य करना चाहिए। उनका हम केवल उपभोग न करें, उन्हें सुरक्षित भी रखें।

दूसरे सत्र में योग का प्रशिक्षण देने वाली प्राध्यापिका “गीता” जी ने स्वयं सेविकाओं को योग कराया। उसके बाद योग के महत्त्व को बताते हुए प्रतिदिन योग करने के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया। कार्यक्रम के तीसरे सत्र में रत्नाकर पार्क से-
करें योग रहें निरोग
धरती करे यही पुकार
हरा भरा करते संसार
पेड़ लगाओ, पेड़ बचाओ
पृथ्वी को सुन्दर बनाओ
पेड़ों को मत काटो आप
पृथ्वी नहीं करेगी माफ
जैसे नारे लगाए। कार्यक्रम का समापन पुनः NSS के लक्ष्य गीत, ताल, नुक्कड़ नाटक के बाद राष्ट्रगान से किया गया।
———————————————————————

वेस्ट मैनेजमेंट के ऊपर कार्यक्रम का आयोजन किया गया
राष्ट्रीय सेवा योजना की इकाई ‘ए’ एवं ‘डी’ द्वारा समापन समारोह आनंद बाग पार्क, दुर्गाकुंड में आयोजित किया गया। आज के कार्यक्रम का विषय था राष्ट्रीय एकता। इस अवसर पर स्वयंसेविकाओं ने राष्ट्रीय एकता के गीत पर मनमोहक नृत्य एवं कविता प्रस्तुत की । स्वच्छता, मतदाता जागरूकता और महिला सशक्तिकरण पर नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति की गई और नेदा कोनीन और अपराजिता के द्वारा सप्त दिवसीय कार्यक्रम की रिपोर्ट पेश की गई।

कार्यक्रम का संचालन कुमारी वर्षा एवं धन्यवाद ज्ञापन कुमारी राजनंदिनी ने किया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. नीलकंठ तिवारी विधायक एवं विशिष्ट अतिथि डॉ. आर.एन. मीना कार्यक्रम समन्वयक राष्ट्रीय सेवा योजना, काशी हिंदू विश्वविद्यालय एवं प्रोफेसर अनुपम कुमार नेमा, डीन आफ स्टूडेंट काशी हिन्दू विश्वविद्यालय एवं पार्षद अक्षय कुमार सिंह, कार्यकारिणी सदस्य दुर्गाकुंड, वाराणसी, कार्यकारी प्राचार्या प्रोफेसर बिंदु लाहिड़ी, प्रोफेसर सुचिता त्रिपाठी एवं अन्य विशिष्ट गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थें। कार्यक्रम के द्वितीय सत्र में वेस्ट मैनेजमेंट के ऊपर कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें स्वयंसेविकाओं ने अनुपयोगी सामग्रियों से सुंदर एवं आकर्षक वस्तुओं का निर्माण किया। कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर ममता गुप्ता एवं डॉक्टर स्वप्ना बंद्योपाध्याय के नेतृत्व में 100 स्वयंसेविकाओं ने अपने सप्त दिवसीय शिविर को सफलतापूर्वक पूर्ण किया।

 

Leave A Comment