Total Views: 32

वाराणसी: महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के इतिहास विभाग में बुधवार को आईआईटी रुड़की और भारत सरकार के संयुक्त तत्वावधान में तकनीकी कौशल कार्यक्रम के आठवें दिन का सेशन संपन्न हुआ। कार्यक्रम में आईआईटी बीएचयू के सचिन कुमार और वेदान्त कौशिक ने मशीन लर्निंग तकनीक की उपयोगिता के बारे में विस्तार से बताया और साथ ही आने वाले समय में इसकी आवश्यकता को लेकर महत्वपूर्ण बातों को साझा किया। उन्होंने कहा आने वाले समय में मशीन लर्निंग की उपयोगिता बढ़ जाएगी।
इस अवसर पर विभागाध्यक्ष प्रो जया कुमारी आर्यन, प्रो.आनन्द शंकर चौधरी ,डा अलका पाण्डेय, डॉ. अनिरुद्ध कुमार तिवारी, डॉ. अंजू सिंह, डॉ. वीरेंद्र कुमार एवं डॉ. प्रिया श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

Leave A Comment