Total Views: 65

अलीगढ़ 17 फरवरीः राजा महेंद्र प्रताप सिंह अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय सिटी स्कूल की ग्यारवीं कक्षा के दो छात्रों ने पैरा बैडमिंटन और ताइक्वांडो में  अंतर राष्ट्रीय एव राष्ट्रीय टीम का हिस्सा बनकर स्कूल का नाम रौशन किया है।
ज्ञात हो कि ग्यारवीं क्लास के झलकेश कुमार ने पैरा बैडमिंटन में इजिप्ट इंटरनेशनल पैरा बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारत का प्रतिनिधित्व किया, इसमें झलकेश को एकल में तुर्की और इजिप्ट और कुलंबिया कनाडा को हरा कर कांस पदक प्राप्त किया। झलकेश कुमार को 1 लाख तीन हजार के कैश प्राइज के इलावा मैडल और सार्टिफिकेट से सम्मानित किया गया ! झलकेश कुमार का चयन एशियन यूथ गेम में भी हो गया है, जो 25 फरवरी से उज्बेकिस्तान में अयोजित होगा जिस में झलकेश भारत का प्रतिनिधित्व करेगें!
झलकेश कुमार को सिंपली स्पोर्ट्स फाउंडेशन ने पैरा बैडमिंटन खेल को आगे बढ़ाने के लिए स्पॉन्सर किया जिस में 10 लाख रूपया वार्षिक मिलेगा ,वहीं चिराग माथुर ने भी पांचवें  नेशनल ताइकवांडो चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए ताइक्वांडो में स्वर्ण पदक प्राप्त किया,
इस अवसर पर स्कूल के प्रिंसीपल सैय्यद तनवीर नबी ने स्कूल में छात्रों को सम्मानित करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की साथ ही स्कूल के  स्पोर्ट्स टीचर इरफान अहमद और अशरफ खान की बेहतरीन कोचिंग की प्रशंसा की।
सम्मान समारोह में उप प्रधानाचार्य डॉक्टर फैय्याज उददीन, छात्रों के क्लास टीचर   डॉक्टर जुल्फिकार , एग्जामिनेशन इंचार्ज डॉक्टर इकबाल, सिनियर शिक्षक सईद अनवर, अफसर  खान कल्चरल कॉर्डिनेटर शाजिया कमर, व सय्यद अतीक उर रहीम आदि उपस्थिति रहे
————————————-
एएमयू में उद्यमी अभि मुखीकरण कार्यक्रम का आयांजन
अलीगढ़ 17 फरवरीः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के जेएनएमसी ऑडिटोरियम में आज उद्यमी अभिमुखीकरण कार्यक्रम का आयोजन किया। इस कार्यक्रम का अयोजन एएमयू के डीएसडब्ल्यू ऑफिस द्वारा किया गया था।
कार्यक्रम में काशी विद्यापीठ के मालवीय पत्रकारिता संस्थान के पूर्व निदेशक प्रोफेसर ओम प्रकाश सिंह और राधे श्याम (वरिष्ठ आईएएस) लखनऊ के अनुसूचित जाति वित्त और विकास निगम के एमडी, उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा उद्यमिता से संबंधित सरकारी नीतियों के जागरूकता को बढ़ावा देने के लिए यूपी सरकार द्वारा नियुक्त संसाधन व्यक्ति थे।
एएमयू के डीएसडब्ल्यू प्रोफेसर रफीउद्दीन ने मेहमानों का स्वागत किया और इस कार्यक्रम के महत्व कें बारे में बताया इस अवसर पर उन्होंने छात्रों से यूपी सरकार की विभिन्न नीतियों से लाभ उठाने की अपील की। उन्होंने एएमयू के छात्र समुदाय के कल्याण में काम करने की प्रतिबद्धता जाहिर की।
आईएएस अधिकारी राधे याम प्रोग्राम ने अपने व्यापक अनुभव के साथ, राज्य  सरकार की कल्याण योजनाओं और उद्यमिता के विस्तार की योजनाओं के के बारे में छात्रों के करियर के अवसरों के बारे में प्रकाश डाला। उन्होंने अपनी जीवन की यात्रा और अनुभव को छात्रों के साथ साझा किया और उन्हें सामाजिक कार्य की दिशा में प्रेरित किया और उनके लक्ष्यों को प्राप्त करने और पिछड़े हुए आमलोगों के उत्थान की दिशा में काम करने के लिए प्रत्साहित किया।
प्रोफेसर ओम प्रकाश सिंह समाज में छात्रों और असहाय लोगों की सहायता के लिए सरकारी पहलों और नीतियों के बारे में विस्तार से चर्चा की। प्रोफेसर सिंह ने 19 फरवरी को लखनऊ में प्रधानमंत्री मोदीजी और मुख्यमंत्री योगीजी की उपस्थिति में होने वाले ग्राउंड बे्रकिंग कार्यक्रम से शुरू होने वाले 20000 उद्योगों का विस्तृत विवरण दिया। यह जीबीसी यूपी सरकार द्वारा आयोजित निवेशकों के समिटों का परिणाम है। उन्होंने यूपी सरकार द्वारा राज्य की अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डॉलर में बदलने के लिए जो कदम उठाए हैं, उसके बारे में चर्चा की। उन्होंने छात्रों को भविष्य के रोजगार के अवसरों के बारे में जानकारी प्राप्त करने और समाज के असहाय लोगों को जानकारी प्रदान करने के लिए पोर्टल की विस्तार से जानकारी दी।
कार्यक्रम को प्रोफेसर विभा शर्मा, उप डीएसडब्ल्यू ने कार्यक्रमका संचालन किया। डॉ। ाम्स तबरेज खान, सहायक डीएसडब्ल्यू ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
—————————–
एसएन हाल का वार्षिक हॉल समारोह संपन्न
अलीगढ़, 17 फरवरीः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के सरोजिनी नायडू हॉल का वार्षिक साहित्यिक, सांस्कृतिक और खेल उत्सव, दरीचा 24, विभिन्न कार्यक्रमों के विजेताओं के सम्मान समारोह के साथ संपन्न हुआ।
अपने संबोधन में मुख्य अतिथि, एएमयू विमेंस कॉलेज की प्रिंसिपल प्रोफेसर नईमा गुलरेज ने कार्यक्रम आयोजकों के प्रयासों की सराहना की और विभिन्न कार्यक्रमों के विजेताओं को बधाई दी। उन्होंने छात्राओं  से जीवन में एक निश्चित लक्ष्य बनाने और उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए अपना पूरा प्रयास करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि बिखरे हुए मन से बड़ी उपलब्धियां हासिल नहीं की जा सकतीं।
उन्होंने प्रोवोस्ट, प्रोफेसर अफशां बे, वार्डन डॉ सदफ नासिर, डॉ सूफिया नसीम, डॉ नाजिया बेगम और हिना परवीन और अन्य हॉल समितियो के सदस्यों को भी सम्मानित किया।
मानद अतिथि के रूप में कार्यक्रम में शामिल हुए एएमयू प्रॉक्टर, प्रो. वसीम अली और डीएसडब्ल्यू, प्रो. रफीउद्दीन ने छात्राओं से सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाने और अपने जीवन में होने वाली चीजों को रचनात्मक तरीके से देखने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि सकारात्मक दृष्टिकोण हमेशा चीजों को बेहतर बनाता है। उन्होंने कहा कि आशावादी दृष्टिकोण व्यक्ति को प्रेरित करता है जो अंततः उसे सफलता की ओर ले जाता है।
इससे पूर्व प्रोवोस्ट प्रोफेसर अफशां बे ने अतिथियों का स्वागत करते हुए हॉल निवासियों की सफलताओं पर प्रकाश डाला और हॉल फेस्टिवल के तहत आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों के विजेताओं और प्रतिभागियों को बधाई दी। उन्होंने छात्रों से इंटर-हॉल साहित्यिक, सांस्कृतिक और खेल कार्यक्रमों में भाग लेने का आग्रह किया क्योंकि इससे उनके व्यक्तित्व विकास में बहुत मदद मिलेगी और उन्हें हानिकारक इंटरनेट विकर्षणों से बचाया जा सकेगा।
सीनियर प्रॉक्टोरियल मॉनिटर, कुलसुम फातिमा ने प्रोफेसर बे को सम्मानित किया, जबकि साहित्यिक, सांस्कृतिक और खेल समितियों के संबंधित सचिवों ने वार्षिक हॉल समारोह, दरीचा के एक भाग के रूप में आयोजित गतिविधियों की एक रिपोर्ट प्रस्तुत की। छात्राओं की एक टीम ने हास्य नाटक प्रस्तुत कर दर्शकों को हंसा-हंसा कर लोटपोट कर दिया।
डॉ. शाहपुर रहमान और डॉ. सिराजुद्दीन शेख ने हारमोनियम वादन के साथ मनमोहक तबला प्रदर्शन किया।
————————-
एएमयू के प्रोफेसर और शोध छात्र को मिला सर्वश्रेष्ठ पेपर का पुरस्कार
अलीगढ़, 17 फरवरीः आनंद रंगपिल्लई लाइब्रेरी, पांडिचेरी विश्वविद्यालय द्वारा जी20 पुस्तकालय शिखर सम्मेलन ज्ञान और सांस्कृतिक विरासत के लिए राष्ट्रों को जोड़नाष् विषय पर केंद्रित जी20 लाइब्रेरी शिखर सम्मेलन के दौरान अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के पुस्तकालय और सूचना विज्ञान विभाग के प्रोफेसर एम. मासूम रजा और शोध छात्र अब्दुल मोइद को सर्वश्रेष्ठ पेपर का पुरस्कार प्रदान किया गया।
भारत के राष्ट्रीय अभिलेखागार में अभिलेखों का मूल्यांकन और प्रबंधन विषय पर उनके पेपर को मिलने वाला सम्मान अनुसंधान और विद्वतापूर्ण उत्कृष्टता के प्रति एएमयू की प्रतिबद्धता को रेखांकित करते हुए इस क्षेत्र में उनके योगदान को दर्शाता है।
———————–
एएमयू के स्पेनिश शिक्षक को मिला सम्मान
अलीगढ़, 17 फरवरीः अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के विदेशी भाषा विभाग में स्पेनिश के सहायक प्रोफेसर डॉ. मयूरेश कुमार का एक लेख स्प्रिंगर द्वारा प्रकाशित ‘द थ्योरी ऑफ माइंड अंडर स्क्रूटनी साइकोपैथोलॉजी, न्यूरोसाइंस, फिलॉसफी ऑफ माइंड एंड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस‘ नामक पुस्तक में शामिल किया गया है। उन्होंने अपने शोध पत्र में मनोविज्ञान, तंत्रिका विज्ञान, मन के दर्शन, भाषा अधिग्रहण और कृत्रिम बुद्धिमत्ता के जटिल अंतर्संबंधों पर प्रकाश डाला है।
इस के अतिरिक्त, उन्होंने लोकप्रिय स्पेनिश उपन्यास ‘एल अल्टार डेल मिलग्रो‘ का अंग्रेजी में अनुवाद करके अपनी भाषाई दक्षता का प्रदर्शन किया। इस मूल कार्य के लेखक राॅबट्र्री गमारा ने 16 फरवरी को एएमयू में विदेशी भाषा विभाग का दौरा किया, और प्रो. मुहम्मद अजहर, डीन, अंतर्राष्ट्रीय अध्ययन संकाय, प्रो. रख्शंदा फाजली और डॉ. मुराद अहमद खान की उपस्थिति में उनके अनुवादित संस्करण को जारी किया।
एक अन्य उपलब्धि में, डॉ. कुमार को स्पेन सरकार के कैस्टिला और लियोन प्रशासन द्वारा आने वाले ग्रीष्म काल में स्पेन की यात्रा के लिए शिक्षकों की फेलोशिप के लिए चुना गया है। शिक्षा के प्रति उनके समर्पण और शिक्षा में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने की प्रतिबद्धता को मान्यता देने के लिए, भारत में स्पेन के दूतावास, इंस्टीट्यूटो सर्वेंट्स में इस फेलोशिप की घोषणा की गई थी।
————————–
एमबीए छात्रों की टीम ने जीता बेस्ट मैनेजमेंट टीम का खिताब
अलीगढ़, 17 फरवरीः अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय मालप्पुरम केंद्र, केरल के प्रबंधन विभाग के छात्रों के एक समूह की टीम ने नेह स्कूल ऑफ मैनेजमेंट, एनसीईआरसी, त्रिशूर, केरल द्वारा आयोजित राष्ट्रीय स्तर के प्रबंधन उत्सव, ‘कर्मा 2024‘ के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रबंधन टीम का पुरस्कार जीता।
हंजला ताहिर (एमबीए), फैज खान (एमबीए प्प्), मोहम्मद दानिश (एमबीए), और मोहम्मद आरिश खान (एमबीए ) पर आधारित टीम ने विभिन्न कॉलेजों और संस्थानों के छात्रों की कई टीमों को हराकर यह उपलब्धि हासिल की।
छात्रों ने महोत्सव के दौरान अपनी नेतृत्व क्षमता, अभिनव सोच और टीम वर्क की भावना का प्रदर्शन किया और केंद्र और विश्वविद्यालय का नाम रोशन किया।
विजेता टीम को उनकी उपलब्धि पर बधाई देते हुए, केंद्र के निदेशक, श्री फैसल केपी ने कहा कि यह एएमयू मालप्पुरम केंद्र में प्रदान की जाने वाली शिक्षा और प्रशिक्षण की गुणवत्ता का प्रमाण है।
टीम को खिताब के लिए प्रशंसा प्रमाण पत्र के अलावा नकद पुरस्कार भी मिला।
——————————
एएमयू शिक्षक द्वारा ऑनलाइन व्याख्यान
अलीगढ़, 17 फरवरीः अलीगढ मुस्लिम विश्वविद्यालय के विमेंस कॉलेज के कॉमर्स अनुभाग के प्रोफेसर बाबू बख्श मंसूरी ने 16 फरवरी को करीम सिटी कॉलेज, जमशेदपुर (झारखंड) में स्नातकोत्तर छात्रों और शोधार्थियों के लिए एक ऑनलाइन व्याख्यान दिया। व्याख्यान ‘यूजीसी नेट-जेआरएफ तैयारी सफलता के लिए युक्तियाँ और रणनीतियाँ। विषय पर केंद्रित था।
प्रोफेसर मंसूरी ने परीक्षा पैटर्न, इसकी संरचना और प्रारूप पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने पाठ्यक्रम पर भी चर्चा की और उन विषयों पर जोर दिया जिन्हें उम्मीदवारों को अपनी तैयारी में प्राथमिकता देनी चाहिए।
इसके अतिरिक्त, उन्होंने उम्मीदवारों को समय प्रबंधन तकनीकों और संसाधनों के उपयोग के सुझावों सहित लक्ष्य और प्रभावी तैयारी रणनीतियां देने के लिए पिछले साल के कटऑफ अंक साझा किए।

Leave A Comment