Total Views: 52

वाराणसीः शिवपुर थाना प्रभारी हैं रवि शंकर त्रिपाठी। इन्होंने अपने थाना क्षेत्र में निवास करने वाले ऐसे तमाम बुजुर्गों की एक सूची बनाई है, जिनकी देखरेख करने के लिए उनके बच्चे उनके पास नहीं रहते। बुजुर्गों की मानवीय जरूरतों को पूरा करवाने का भरसक प्रयास करते हैं। पुलिस दोस्त बनकर उनसे बात भी करती है। शिवपुर थाने का एक वाट्सऐप ग्रुप भी बना हुआ है, जिसके माध्यम से प्रयास किया जाता है कि आम जनता से जुड़े मसलों को सामने लाया जाए और उनका हल तलाशा जाए।
हमारा मोर्चा से बातचीत करते हुए श्री त्रिपाठी ने कहा कि उनके कार्यकाल में दो गो-तस्करों को पकड़कर जेल भेज दिया गया। उन्होंने कहा कि जमीन से जुड़े विवाद में कोशिश की जाती है कि राजस्व विभाग की टीम को बुलाकर तुरंत न्याय करवा दिया जाए और किसी भी पक्ष की दबंगई को नहीं चलने दिया जाए। उन्होंने कहा कि जमीन से जुड़े विवाद को लेकर थाने पर लोग आते हैं तो लेकिन मारपीट का कोई केस अभी तक नहीं आया है। उनके थाना क्षेत्र में अवैध-शराब और गाँजे से जुड़ी कोई शिकायत नहीं मिली है, अलबत्ता बालिग-नाबालिग लड़कियों के भागने के मामले बढ़े हैं।
श्री त्रिपाठी के कुशल नेतृत्व में शिवपुर थाने का स्टाफ इलाके में अमन-चैन कायम करने के लिए मुस्तैदी से काम करता है। इलाके में कई बार छोटी-मोटी चोरियों की वारदात जरूर हो जाती है लेकिन कोई बड़ा आर्थिक उनके कार्यकाल में सामने नहीं आया है। त्योहारों के मौकों पर श्री त्रिपाठी की अगुवाई में शिवपुर अक्सर ही बाजार में गश्त करती है ताकि शांति-व्यवस्था चाक-चौबंद बनी रहे।
बेहद मृदुभाषी और मिलनसार रवि शंकर त्रिपाठी से मिलकर आश्वस्त हुआ जा सकता है कि जन-हितैषी पुलिस अफसर ऐसे ही होते हैं।

Leave A Comment