Total Views: 44

शिक्षाशास्त्र विभाग में 8 अप्रैल से मालवीय मिशन शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ

वाराणसी: शिक्षाशास्त्र विभाग, महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, नई दिल्ली द्वारा शिक्षकों एवं शोधार्थियों के क्षमता संवर्धन तथा वृत्तिक विकास हेतु मालवीय मिशन शिक्षक प्रशिक्षण केन्द्र के रूप में मान्यता प्राप्त हुई है। इसके तहत शिक्षक प्रशिक्षण से संबंधित विविध कार्यक्रमों, जिसमें राष्ट्रीय शिक्षा नीति -2020 के प्रति जागरूकता एवं गहन समझ विकसित करने तथा शैक्षिक नेतृत्व क्षमता के विकास आदि के आयोजन हेतु आयोग द्वारा अनुदान की प्रथम किश्त जारी की गई है। यह भारत सरकार के मालवीय मिशन शिक्षक प्रशिक्षण योजना के अंतर्गत संचालित होता है।

केंद्र निदेशक एवं शिक्षाशास्त्र विभाग के अध्यक्ष प्रो. सुरेन्द्र राम ने बताया कि मालवीय मिशन शिक्षक प्रशिक्षण केंद्र राष्ट्रीय शिक्षा नीति -2020 अभिमुखीकरण एवं जागरूकता विषयक आठ दिवसीय (08-15 अप्रैल, 2024) प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने जा रहा है, जिसमें राष्ट्रीय स्तर के विषय विशेषज्ञों द्वारा कुल आठ प्रमुख विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यक्रम संयोजक प्रो. रमाकांत सिंह ने बताया कि प्रशिक्षण कार्यक्रम ऑनलाइन होगा, जिसमें प्रतिभागियों को दिए गए लिंक पर रजिस्टर करना होगा। कार्यक्रम में कुल 200 प्रतिभागी भाग ले सकेंगे। पंजीकरण की अंतिम तिथि 5 अप्रैल, 2024 है।

शिक्षाशास्त्र विभाग को केंद्र की मान्यता मिलने पर पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आनंद कुमार त्यागी, वित्त अधिकारी संतोष कुमार शर्मा, कुलसचिव डॉ. सुनीता पांडेय सहित विश्वविद्यालय के अध्यापकगण, शोधार्थियों एवं अधिकारियों ने अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए भावी सफलता हेतु अपनी शुभकामनाएं दी।

Leave A Comment