Total Views: 171

वाराणसीः काशी हिंदू विश्वविद्यालय के दृश्य कला संकाय में दो दिवसीय राजबंग्शी चित्रकला कार्यशाला का आरंभ दिनांक 08.02.2024 को हुआ। कार्यशाला मैं उत्तरी बंगाल की राजबंग्शी जनजाति की कला पर एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म दिखाई गई, जिसके माध्यम से प्रागैतिहासिक काल से संबंध रखने वाली इस जनजातीय कला के स्वरूप का विवरण प्रस्तुत किया गया।
तत्पश्चात कार्यशाला में प्रतिभाग कर रहे लगभग 100 प्रतिभागियों ने इस कला से प्रेरणा लेकर कैनवास पर आकर्षक संयोजन बनाए। इस कार्यशाला में उत्तरी बंगाल के रहने वाले प्रसिद्ध कलाकार श्री मधुसूदन दास प्रतिभागियों को कल रूप रंग और संयोजन के बारे में मार्गदर्शन प्रदान कर रहे हैं। कार्यशाला का उद्घाटन संकाय प्रमुख डॉ. उत्तमा दीक्षित ने किया।
यह कार्यशाला डॉ. सुरेश जांगिड़ के समन्वयन से आयोजित की जा रही है। इस अवसर पर प्रोफेसर डी.पी. मोहंती
डॉ. शांति स्वरूप सिन्हा, डॉ. ब्रह्म स्वरूप, श्री एम.पी. सिंह, डॉ. मनीष अरोड़ा, श्री सुरेश नायर, डॉ. ललित मोहन सोनी, डॉ. आशीष गुप्ता, डॉ महेश सिंह, श्री साहेब राम टुडू एवं श्री विजय भगत समेत  समस्त संकाय सदस्य उपस्थित रहे।

Leave A Comment